good morning quotes download for whatsapp

*जिसके मन का भाव सच्चा*
              *होता है*
   *उसका हर काम अच्छा* 
              *होता है….!!!!*
      
*छोड़िए शिकायत,* 
         *शुक्रिया अदा कीजिये।*
*जितना है पास,* 
          *पहले उसका मजा लीजिये…..!!!*
🍁 *सीमेंट से भी एक सीख मिलती है!*
*जोड़ने के लिए नर्म होना ज़रूरी है 
और जोड़े रखने के लिए सख़्त होना जरूरी है….!!!*                              
  
अकड़ बहुत है हमने माना 
तोड़ दूँगा मुझे मत दिखाना……!!!
हौसला बनाये रखना महादेव,
 हमारी हलचल कइयों को खटक रही है….!!!
जब शिकार का वक़्त आएगा 
तब हम जंगल मे जरूर आएंगे…..!!!
   ✍️       _*उस व्यक्ति की*_ 
                   _*शक्ति का*_
            _*कोई मुकाबला नहीं,*_
                *जिसके पास*_ 
              _*शक्ति के साथ*_
           _*सहनशक्ति भी हो…..!!!*_
                
*अपनी सबसे मित्रता,स्नेह,*
*नहीं किसी से बैर।*
*सारे अपने काम के,*
*सबका अपना मोल।*
*जो संकट में साथ दे,*
*वो सबसे “अनमोल”…..!!!!*
        
अपनो  की कद्र कीजिए जनाब,, 
उपेक्षा से सदियों पुराने रिश्ते भी पल भर में टूट ही जाते है…..!!! ,,
*ख़ुद मझधार में होकर भी,*
*जो औरों का साहिल होता है ।*
*ईश्वर जिम्मेदारी उसी को देता हैं,*
*जो निभाने के क़ाबिल होता है……!!!*
 
*किसी भी रिश्ते को जीवंत रखने के लिये
 हृदय से प्रेम अति आवश्यक है…!!!”*   
  
*लोग अफ़सोस से कहते है की*
*”कोई किसी का नहीं”..*
*लेकिन कोई यह नहीं सोचता की* 
  *”हम किसके हुए”….!!!* 
 
स्वभाव  रखना  है  तो  उस  दीपक  की  तरह रखिये ,  
जो  बादशाह  के  mahal में  भी  utnee ही  रोशनी  detaa है ,  
जितनी  की  किसी  गरीब  की  झोपड़ी  में….!!!
    
तन की खूबसूरती एक भ्रम  है..!
 सबसे खूबसूरत आपकी “वाणी” है..!
        चाहे तो दिल “जीत” ले.
         चाहे तो दिल “चीर” दे”!
इन्सान सब कुछ कॉपी कर सकता है..!
   लेकिन किस्मत और नसीब नही….!!!!
    
    प्यार की डोर सजाये रखो,
    दिल को दिल से मिलाये रखो,
क्या लेकर जाना है साथ मे इस दुनिया से,
मीठे बोल और अच्छे व्यवहार से
        रिश्तों को बनाए रखो….!!!
   
    हमारा ‘व्यवहार’ कई बार
हमारे ‘ज्ञान’ से अधिक ‘अच्छा’
          साबित होता है।
       क्योंकि जीवन में जब
  ‘विषम’ परिस्थितियां आती हैं
      तब ज्ञान ‘हार’ सकता है
    परन्तु ‘व्यवहार’ से हमेशा
‘जीत’ होने की ‘संभावना’ रहती है…..!!!
    
*जहां हो जैसे हो..*
*वहीं ख़ुश रहना दोस्तों…,*
*तुम्हारा मिलना ज़रूरी नहीं..*
 *तुम्हारा होना ही काफ़ी है…!!!*
         
अच्छे जरूर बने लेकिन
साबित करने की कोशिश ना करें….!!!
  
*हे भगवान, मुझे उन चीजों को स्वीकार करने के लिए 
सन्मति प्रदान करें, जिन्हें मैं नहीं बदल सकता, 
जिन चीजों को मैं बदल सकता हूं, उन्हें बदलने की 
हिम्मत प्रदान करना और  दोनों में अंतर जानने के लिए बुद्धि….!!!*
 
जीवन  में  किसी  को  रुलाकर
    हवन  भी  करवाओगे  तो
       कोई  फायदा  नहीं ,
 और  अगर  रोज  किसी  एक
को  भी  हँसा  दिया  तो ,    
     आपको  अगरबत्ती  भी
   जलाने  की  जरुरत  नहीं …..!!!
  
जिस तरह सूर्य प्रकाश देता है, 
संवेदना करुणा को जन्म देती है, 
पुष्प सदैव महकता रहता है, 
उसी तरह  आपके लिए  हर दिन, 
हर पल के लिए मंगलमय हो….!!!
    यदि  गुलाब की तरह
       खिलना चाहते है तो
   काँटों के साथ तालमेल की
        कला सीखनी होगी….!!!!       
🌺 आज का सुविचार 🌺
खूबी  और  खामी
         दोनो  ही  होती  है 
लोगों  में
      आप क्या  तलाशते  हो
ये  महत्वपूर्ण  है…..!!!
*बड़े दौर गुजरे हैं जिंदगी के,* 
*यह दौर भी गुजर जायेगा..!* 
*थाम लो अपने पांव को घरों में,* 
*ये मंज़र भी थम जाएगा….!!!*
जिंदगी में ऐसे लोग भी मिलते हैं….
         जो वादे तो नहीं करते
   लेकिन
         निभा बहुत कुछ जाते है.,.
अक्सर वही रिश्ते,
          लाजवाब होते हैं…
जो एहसानों से नहीं,
             एहसासों से बने होते हैं….!!!
शीशे  की  तरह  चरित्रवान  बनो  ताकि  लोग 
 तुम्हे  देखकर  अपने  चरित्र  के  दोषों  को  दूर  करें  
जैसा  कि  वे  शीशे  को  देखकर  अपने  चेहरे  के  दोषों  को  दूर  करते  हैं ….!!!!
माना कि आज घना अंधकार है,
दुश्मन है चुस्त,अदृश्य, निराकार है,
अनुशासित होकर लड़ेगे ये जंग,
जीतेंगे हम, ये चुनौती स्वीकार है…!!!
                   ~
                   ~
*सलाह, हारे हुए की..* 
*तजुर्बा, जीते हुए का…* 
*और दिमाग, खुद का…* 
*इंसान को जिंदगी में कभी हारने नहीं देते…!!!*
अच्छे इन्सान की सबसे पहली
और सबसे आखिरी निशानी  ये है
                    कि
वो उन लोगों की भी इज्जत करता है    
जिनसे उसे किसी किस्म के फायदे की             
          उम्मीद नही होती….!!!!
                
*अपनी सोच को हमेशा बुलंद रखो,*
                    *क्योकि…* 
*सोच का ही फ़र्क होता है…!*
                    *वरना* 
*समस्याएँ आपको कमजोर नहीं* *बल्कि मज़बूत बनाने आती है…!!!*
जब बात जरूरत को हो तोह जुबान सबकी मीठी हो जाती है
 जब रिश्तों में झूठ बोलने की
 आवश्यकता महसूस होने लगे, 
   तब समझ लेना चाहिए
 कि रिश्ता समाप्ति की ओर है….!!!
*देश में “राजा”*
    *समाज में “गुरु”*
          *परिवार में “पिता”*
                 *घर में “स्त्री”*
     *ये कभी “साधारण” नहीं होते*
                   *क्योंकि*
       *~ निर्माण और प्रलय ~*
      *इन्हीं के “हाथ” में होता है ….!!!!*
                  
“लोग जब poochhate है कि aap क्या kaam करते है । 
तो असल में वो हिसाब  लगाते है कि आपको कितनी इज़्ज़त देनी है…..!!!”

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *